सरसों का तेल – Mustard Oil in Hindi: A Superfood for Health and Beauty!

वैसे तो खाना बनाने के बहुत से तेल होते है आज हम सरसों का तेल के तेल के में बात करेंगे।सरसों का तेल सरसों के बीजों से निकाला जाता है. जिसे सवाद और सुगंद तीखा होता है. सरसों के तेल का प्रयोग दुनिया के बहुत सारे हिसो में खाना और दवाओ को बनाने में परचूर मात्रा में किया जाता है.

सरसों के तेल को भारतीय और बांग्लादेश के खाने में बहुत प्रयोग किया जाता है इससे यहां के खाने मैं बहुत टाइम से इस्तेमाल किया जाता है।

सरसों के तेल से यहां के खाने में एक अलग और अच्छा स्वाद आता है. जीवाणुरोधी गुणों के कारण इसका प्रयोग अचार बनाने के लिए भी किया जाता है जिससे अचार लंबे समय तक ख़राब नहीं होता है।

Mustard Oil In Hindi - सरसों का तेल

  • इरूसिक एसिड Erucic Acid

सरसों के तेल में इरूसिक एसिड होने के कारन इसका अधिक प्रयोग सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. कुश देशों में स्वास्थ्य जोखिमों के कारन इसका पयोग पर पाबन्दी लगा राखी है जबकि कुश देशों में इरूसिक एसिड की मात्रा को सिमित कर दिया गया है.

सरसों के तेल में इरुसिक एसिड की मात्रा तेल के स्रोत के आधार पर अलग अलग होती है, लेकिन यह 2% से लेकर 50% तक कम या जयादा हो सकती है। वर्ल्ड हेल्थ ओर्गनइजेशन (W H O) कि सलाह है की इरूसिक एसिड का सेवन कुल आहार वसा के 5% से अधिक नहीं होना चाहिए।

भारत, पकिस्तान और बांग्लादेश में सरसों का तेल भरपूर मात्रा में उपयोग किया जाता है जिससे यहाँ के लोगो को कोई खास हानिकारक प्रभाव नहीं पाया जाता है जबकि कुश अध्ययनों में बताया गया है की इरूसिक एसिडका अधिक मात्रा में उपयोग हृदय रोग को बढ़ा सकता है

इसलिए सरसों के तेल के प्रयोग से कोई भी परेशानी में स्वास्थ्य सलाहकार या डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए|

  • सरसों के तेल के फायदे

  • त्वचा (Skin) और बालों (Hair) के लिए फायदेमंद;

सरसों के तेल में विटामिन ई और सरसों के तेल में जीवाणुरोधी और एंटीफंगल गुणहोने के कारण सरसों का तेल त्वचा और बालों के लिए बहुतअच्छा माना जाता है.

सरसों के तेल का परयोग सुखी त्वचा ( ड्राई स्किन ) और बालों को मॉइस्चराइज़ करने में एक अच्छा विकल्प है सरसों का तेल त्वचा (स्किन ) की जलन को कम करने में मदद करता है. सरसों का तेल बालों को लम्बा और मजबूत केरने में मदद करता है

  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है:

सरसों के तेल में एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण यह रोगप्रतिरोधक छमता को बढ़ाता है जिससे शरीर में कोई भी रोग होने की सम्बावना काम होती है.Mustard Oil In Hindi - सरसों का तेल

  • सूजन कम करने में मदद करना;

सरसों के तेल में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद करता है. जैसे गठिये जैसी बीमारी में रोगी को आराम देता है.सरसों के तेल की मालिश से मरीज को को आराम मिलता है.

  • हृदय स्वास्थ्य

सरसों के तेल में मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड वसा होने के कारन खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है. जिससे हार्ट समस्या में कमी होती है 

  • जीवाणुरोधी गुण

सरसों के तेल में जीवाणुरोधी गुण होने के कारण शरीर में हानिकारक जीवाणुओं से बचने में मदद करता है. और शरीर को बीमारियों से बचाकर रखने में मदद करता है

जबकि सरसों के तेल में बहुत सारे फायदे होते हैं फिर भी इसमें इरूसिक एसिड होने के कारण इसको अधिक मात्रा में खाने से कुश समस्याए भी हो सकती है जिस कारण इसे अपने आहार में संतुलित मात्रा में सेवन करना चाहिए। कभी भी सरसो कके तेल से समस्या हो तो अपने नजदीकी डॉक्टर से मिलकर सलाह जरूर लें.

 

  • निष्कर्ष

सरसों का तेल सरसों के पौधे से प्राप्त बीजों को मशीनो की मदद से निकला जाता है सरसों का तेल विशेष रूप से दक्षिण एशिया हिस्से में लोकप्रिय है

सदियों से दक्षिण एशिया देशों में प्रयोग किया जाता आया है. सरसों के तेल के लाभ जैसे; त्वचा और बालों को सवस्थ रखना, रोगप्रतिरोदक क्षमता को बढ़ाना, सूजन में आराम और हृदय स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद करता है और भी बहुत से फायदे है

फिर भी सरसों के तेल का प्रयोग काम मात्रा में करना चहिये कयोकि इसमें इरुसिक एसिड होता है जिसके अधिक प्रयोग से इन्सानी सरीर में कुश परेशानी हो सकती है. सरसो के तेल का संतुलित मात्रा में प्रयोग हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदाताक होता है

सरसों का तेल एक संतुलित आहार में एक अछि कड़ी हो सकता है और बहुत से लाभ भी देता है लेकिन इससे होने वाली समस्याओं से भी बचकर रहना चाहिए अगर कोई भी समस्या आये तो अपने नजदीकी डॉक्टर से सलाह जरूर प्राप्त करे.सरसों के तेल से होने वाली समस्याऐ आगे बताई गई है.

एलर्जी:   कुछ लोगों को सरसों का तेल सेवन करने से एलर्जी हो सकती है जैसे उनके शरीर पर दाने निकल सकते है , शरीर पर खुजली होने लगती है, कुश लोगों को साँस लेने में भी दिक्कत आती है

संवेदनशील त्वचा;    सरसों का तेल संवेदनशील त्वचा के लिए सही नहीं होता सरसो के तेल से संवेदनशील त्वचा पर जलन होने की सम्भावना जयादा होती है

इरूसिक एसिड:      सरसों के तेल में इरुसिक एसिड होने के कारण इसका अधिक मात्रा में प्रयोग करना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है जबकि कुश देशों में इसके खाने पर पाबन्दी भी लगा राखी है.

इसलिए सरसों के तेल को धयान से प्रयोग करना चाहिए। जब भी कोई शारीरिक समस्या आये तो अपने नजदीकी डॉक्टर से सलाह लेनी चहिये।

more…

Rice Bran Oil….

 

  • QNA

  • Que.  क्या हम कोल्ड प्रेस्ड सरसों के तेल में खाना बना सकते हैं?
  • Ans.    हम कोल्ड प्रेस्ड सरसों के तेल में खाना बना सकते हैं इसमें बना खाना हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है. कोल्ड प्रेस्ड सरसों के तेल में खाना को टला – भुना और मॅरिनेट किया जाता है।

 

  • Que.  सरसों का तेल गर्म होता है या ठंडा?
  • Ans      आयुर्वेद के हिसाब से सरसों का तेल गर्म तासीर का होता है इसका उपयोग जोड़ो तथा मांसपेशियों के दर्द को कम करने के लिए दर्द वाली जगह पर मालिश किया जाता है.

 

  • Que.  सरसों के तेल के क्या फायदे हैं?
  • Ans     सरसों के तेल हृदय स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है क्योकि इसमें मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड नामक वसा बहुत होता है और सरसों का तेल सूजन वाले जगह पर मालिश करने पर आराम मिलता है

 

  • Que. क्या सरसों का तेल हानिकारक है?
  • Ans  आम तौर पर सरसों का तेल खाना बनाने में कोई हानिकारक नहीं है इसके जयादा उपयोग जयादा करने से कुश दिक्कत आ सकती है क्योकि इसमें इरुसिक एसिड पाया जाता है। इरुसिक एसिड के कारण सरसों के तेल को अमेरिका में FDA की तरफ से बैन किया हुआ है.

 

  • Que.  क्या अमेरिका में सरसों का तेल बैन है?
  • Ans    FDA की तरफ से अमेरिका में 2016 में सरसों के तेल को बैन कर दिया गया था क्याकि इसमें इरुसिक एसिड पाया जाता है जबकि भारत के आस – पास वाले देशों में सरसों के तेल का प्रयोग किया जाता है

 

  • Que.   सरसों का तेल या सोयाबीन का तेल कौन सा बेहतर है? 
  • Answer      सरसों के तेल में थायमिन, पैंटोथेनिक एसिड,राइबोफ्लेविन, विटामिन बी6, नियासिन और फोलेट अधिक होता है सोयाबीन के तेल की तुलना में । इसमें काफी अधिक लोहा, पोटेशियम, कैल्शियम और आहार फाइबर है। खाने वाले तेलों में संतृप्त वसा सरसों के तेल में सबसे कम  होती है।

 

  • Que   सरसों के तेल में इरूसिक एसिड होता है?
  • Answer  जी हां, सरसों के तेल में इरुसिक एसिड होता है जिसका ज्यादा मात्रा में सेवन के लिए हानिकारक हो सकता है।

 

  • Que         Mustard Oil in Hindi Meaning?
  • Answer.    सरसों के तेल

3 thoughts on “सरसों का तेल – Mustard Oil in Hindi: A Superfood for Health and Beauty!”

Leave a Comment